Atal pension yojana full detail in hindi : start on 1 june 2015. आप असंगठित क्षेत्र में कामगार हैं और भविष्य को लेकर असुरक्षा महसूस करते हैं। वृद्धावस्था में अपने जीवन यापन को लेकर चिंतित हैं, तो यही वह योजना हो सकती है जो आपके बुढ़ापे का सहारा बन सकती है। अटल पेंशन योजना (Atal pension yojana) में ना केवल आप कम राशि जमा करवाकर हर माह ज्यादा पेंशन के हकदार हो सकते हैं, बल्कि असामयिक मृत्यु की दशा में अपने परिवार को भी इसका फायदा दिलवा सकते हैं ।

सरकार ने रविवार दिनांक ११-०५-२०१५  को कहा कि बजट में घोषित अटल पेंशन योजना जल्द शुरू की जाएगी। इस योजना के तहत 60 साल की उम्र के बाद योजना धारक को 1,000 रुपये से लेकर 5,000 रुपये तक पेंशन मिलेगी जो उनके योगदान पर निर्भर करेगा। योगदान इस बात पर निर्भर करेगा कि संबंधित व्यक्ति किस उम्र में योजना से जुड़ता है। स्वाबलंबन योजना के मौजूदा अंशधारक अगर इससे बाहर निकलने का विकल्प नहीं चुनते हैं तो वो अपने आप इस पेंशन योजना में आ जाएंगे।

अटल पेंशन योजना के महत्वपूर्ण बिंदु: (Most important points of Atal pension yojana): 

  • इस पेंशन योजना के धारक की मृत्यु होने पर उसकी पत्नी को पेंशन मिलती रहेगी।
  • धारक की पत्नी की भी मृत्यु होने की स्थिति में बच्चों को पेंशन मिलती रहेगी।
  • धारक को आजीवन इस खाते में पैसे जमा नहीं करवाने होते हैं।
  • पीएफ खाते की ही तरह सरकार इस पेंशन योजना में अपनी ओर से भी अंशदान देगी।

Atal Pension Yojana Launch Date (अटल पेंशन योजना की प्रारंभ करने तिथी):

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) 1 जून 2015 को शुरू की जाएगी। सरकार का कहना हैं, वर्ष 2010-11 में शुरू की गई स्वालंबन पेंशन योजना  (swavalamban pension yojana) में कुछ खामिया हैं। जिन्हें अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) में दूर कर दिया गया हैं। साथ ही स्वावलंबन योजना से जुड़े लोगों को अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) से जोड़ दिया जायेगा। जिससे स्वावलंबन योजना से जुड़े लोगों का आर्थिक नुकसान नहीं होगा, ओर वह भी अटल पेंशन योजना का लाभ ले सकेंगे।

Pradhan Mantri atal pension yojana (PMAPY)
Pradhan Mantri Atal Pension Yojana (PMAPY)

Atal Pension Yojana Features and Eligibility Criteria in Hindi: (अटल पेंशन योजना की विशेषताएँ एवम योग्यता)

  • अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) से 18 वर्ष से 40 वर्ष तक के नागरिक जुड़ सकते हैं इस तरह इस योजना में नागरिक का योगदान 20 वर्षो का होगा |
  • इसके साथ ही वे नागरिक जो EPF, EPS जैसी योजनाओं में शामिल हैं वे अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) का हिस्सा नहीं बन सकते |
  • अटल पेंशन योजना(Atal Pension Yojana) में धारक का आधार कार्ड होना आवश्यक हैं ताकि योजना के लाभ आसानी से उपभोक्ता को मिले अगर अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) से जुड़ते वक्त उपभोक्ता का आधार कार्ड नहीं हैं तब वह बाद में आधार कार्ड सबमिट कर सकता हैं | अर्थात अटल पेंशन योजना में दाखिला लेते वक्त आधार कार्ड रूकावट नहीं बनेगा परन्तु कुछ समय बाद आधार नम्बर देना जरुरी हैं |

पेंशन आंकड़ा उपभोक्ता के अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) से जुड़ने के समय एवं उनके योगदान पर निर्भर करेगा जो कि निम्न बिन्दुओं में हैं। कृपया ध्यान पूर्वक पढ़े ओर योजना का लाभ उठाये। (Following points describe the Atal Pension Yojana in detail and explain the benefits of consumers depends on the time and their contribution):

  1. 1000 रूपये की मासिक  पेंशन एवं7 लाख उत्तराधिकारी राशि के लिए उपभोक्ता द्वारा किया जाने वाला योगदान जो कि उपभोक्ता की उम्र के अनुसार कितना होगा टेबल में देखे।
संख्या अटल पेंशन से जुड़ते वक्त उपभोक्ता की उम्र उपभोक्ता का मासिक योगदान उपभोक्ता का सांकेतिक मासिक योगदान
1 42 42 42
2 40 40 50
3 35 35 76
4 30 30 116
5 25 25 181
6 20 20 291
  1. 2000 रूपये की मासिक  पेंशन एवम4 लाख उत्तराधिकारी राशि के लिए उपभोक्ता द्वारा किया जाने वाला योगदान जो कि उपभोक्ता की उम्र के अनुसार कितना होगा टेबल में देखे।
संख्या अटल पेंशन से जुड़ते वक्त उपभोक्ता की उम्र उपभोक्ता द्वारा किया जाने वाला योगदान वर्षो में उपभोक्ता का सांकेतिक मासिक योगदान
1 18 42 84
2 20 40 100
3 25 35 151
4 30 30 231
5 35 25 362
6 40 20 582
  1. 3000 रूपये की मासिक  पेंशन एवम1 लाख उत्तराधिकारी राशि के लिए उपभोक्ता द्वारा किया जाने वाला योगदान जो कि उपभोक्ता की उम्र के अनुसार कितना होगा टेबल में देखे।
SN अटल पेंशन से जुड़ते वक्त उपभोक्ता की उम्र उपभोक्ता का मासिक योगदान उपभोक्ता का सांकेतिक मासिक योगदान
1 42 42 126
2 40 40 150
3 35 35 226
4 30 30 347
5 25 25 543
6 20 20 873
  1. 4000 रूपये की मासिक  पेंशन एवम8 लाख उत्तराधिकारी राशि के लिए उपभोक्ता द्वारा किया जाने वाला योगदान जो कि उपभोक्ता की उम्र के अनुसार कितना होगा टेबल में देखे।
SN अटल पेंशन से जुड़ते वक्त उपभोक्ता की उम्र उपभोक्ता का मासिक योगदान उपभोक्ता का सांकेतिक मासिक योगदान
1 42 42 168
2 40 40 198
3 35 35 301
4 30 30 462
5 25 25 722
6 20 20 1164
  1. 5000 रूपये की मासिक  पेंशन एवम5 लाख उत्तराधिकारी राशि के लिए उपभोक्ता द्वारा किया जाने वाला योगदान जो कि उपभोक्ता की उम्र के अनुसार कितना होगा टेबल में देखे।
SN अटल पेंशन से जुड़ते वक्त उपभोक्ता की उम्र उपभोक्ता का मासिक योगदान उपभोक्ता का सांकेतिक मासिक योगदान
1 42 42 210
2 40 40 248
3 35 35 376
4 30 30 577
5 25 25 902
6 20 20 1454

उपभोक्ता किस तरह से अटल पेंशन योजना में योगदान देगा
(Payment mode in Atal Pension Yojana):

योगदान राशि उपभोक्ता के खाते से बैंक द्वारा ले ली जायेगी। यह प्रक्रिया (auto-debit facility) के तहत पूरी होगी। इस ऑटो डेबिट फेसिलिटी के कारण समय एवं अन्य खर्चे में बचत होगी साथ ही तारीख याद रखने की परेशानी भी नहीं होगी।

सरकार की तरफ से अटल पेंशन योजना में किया जाने वाला योगदान
(Contribution by Government in Atal Pension Yojana)

  • जो व्यक्ति इस अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) का हिस्सा 31 दिसंबर 2015 से पहले बनते हैं उन्हें सरकार द्वारा 50 % का योगदान दिया जायेगा जो कि 5 साल तक रहेगा।
  • साथ ही यह फेसिलिटी उन्हीं को दी जायेगी जो आय कर दाता नहीं हैं।

अटल पेंशन योजना के तहत दंड
(Penalty criteria in Atal Pension Yojana):

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) के तहत उपभोक्ता द्वारा राशि देने में देरी करने पर बैंक द्वारा दंड राशि ली जाएगी जो कि 1 रुपए से 10 रुपये के बीच होगी |

अटल पेंशन योजना के तहत दंड इस प्रकार हैं

  1. अगर उपभोक्ता ने 100 रुपये तक का भुगतान किया हैं तो दंड 1 रूपये प्रति माह होगा |
  2. अगर उपभोक्ता ने 101 रुपये से 500 रूपये तक का भुगतान किया हैं तो दंड 2 रूपये प्रति माह होगा |
  3. अगर उपभोक्ता ने 501 रुपये से 1000 रूपये तक का भुगतान किया हैं तो दंड 5 रूपये प्रति माह होगा |
  4. अगर उपभोक्ता ने 1000 रुपये से 500 रूपये से अधिक का भुगतान किया हैं तो दंड 10 रूपये प्रति माह होगा |

अगर अटल पेंशन योजना के तहत भुगतान में अधिक देरी की जाए तो अकाउंट के साथ की जाने वाली कार्यवाही निम्नानुसार होगी
(Rules of Deactivation Account In Atal Pension Yojana in Hindi):

  • अगर 6 महीने तक अकाउंट में पैसा ना डाला गया तो अकाउंट फ्रिज़ किया जायेगा |
  • अगर 12 महीने तक अकाउंट में पैसा ना डाला गया तो अकाउंट डीएक्टिवेट किया जायेगा |
  • अगर 24 महीने तक अकाउंट में पैसा ना डाला गया तो अकाउंट बंद कर दिया जायेगा |

अटल पेंशन योजना के तहत कुछ महत्वपूर्ण बिंदु
(Key Points Of Atal Pension Yojana in Hindi):

  • अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana)के तहत पेंशन धारक को 60 वर्ष पूरा करते ही मिलेगी |
  • अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana)के तहत अगर 60 वर्ष की आयु के बाद धारक की मृत्यु हो जाती हैं तब पेंशन उसकी पत्नी अथवा पति को मिलेगी अगर दोनों की मृत्यु हो जाती हैं तब पेंशन नॉमिनी को मिलेगी |
  • अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana)के तहत अगर धारक की मृत्यु 60 वर्ष से पहले ही हो जाती हैं तब जमा की गई राशि नॉमिनी को दे दी जाएगी और अकाउंट बंद कर दिया जायेगा |

अटल पेंशन योजना के लाभ
(Advantages Of Atal Pension Yojana in Hindi):

  • अटल पेंशन योजना(Atal Pension Yojana) में धारक को 1 हजार रुपये से 5 हजार रुपये तक की पेंशन मिलने की पूरी गेरेंटी होती हैं |
  • अटल पेंशन योजना(Atal Pension Yojana) के तहत उन लोगो को पेंशन दी जाएगी जो किसी स्ट्रक्चर्ड नौकरी में नहीं हैं|
  • अटल पेंशन योजना(Atal Pension Yojana) के तहत वे लोग जो करदाता नहीं हैं उन्हें पेंशन दी जाएगी |
  • अटल पेंशन योजना(Atal Pension Yojana)के तहत 50 % भुगतान सरकार द्वारा किया जायेगा |
  • अटल पेंशन योजना(Atal Pension Yoajna) गरीबो के लिए लाभकारी हैं |

अटल पेंशन योजना यह सरकार द्वारा किया गया अहम फैसला हैं क्यूंकि जब तक मनुष्य जवान हैं हर परिस्थिती का सामना कर सकता हैं पर वृद्धावस्था में आई कठिनाई मनुष्य को तोड़ देती हैं। ऐसे में अटल पेंशन योजना जैसी योजना जीवन को कुछ हद तक सहारा देती हैं |

प्रारम्भ से पढ़े

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.